भोपाल

कांग्रेस-भाजपा में टकराव

Spread the love

भोपाल-  मध्य प्रदेश में विधानसभा उपाध्यक्ष का पद देने के मूड में अब कांग्रेस कतई मूड में नहीं है, विस अध्यक्ष के पद पर भाजपा ने जो नीति अपनाई थी, उसे देखकर अब कांग्रेस ने भी उपाध्यक्ष पद के लिए अपना प्रत्याशी खड़ा कर दिया है, वहीं भाजपा उपाध्यक्ष पद को किसी भी कीमत में हासिल करना चाहती है. मध्य प्रदेश विधानसभा में उपाध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस की ओर से हिना कांवरे ने नामांकन भर दिया है, वहीं भाजपा की ओर से जगदीश देवड़ा का नाम घोषित किया गया है. डिप्टी स्पीकर पद के लिए चुनाव गुरुवार को होगा. विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव की तरह उपाध्यक्ष पद को लेकर भी सदन में कार्रवाई हंगामेदार होने के आसार हैं.

उल्लेखनीय है कि स्पीकर चुनाव में भाजपा ने प्रत्याशी उतारकर चुनाव का बहिष्कार कर दिया, जिससे कांग्रेस अब उपाध्यक्ष पद को आसानी से भाजपा को देने के मूड में नहीं है. भाजपा के कुछ नेता उपाध्यक्ष पद अपनी पार्टी के पास लाने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ से आग्रह करने का सुझाव दे रहे थे तो कुछ इससे असहमत थे. विस अध्यक्ष के चुनाव में हुआ था विवाद, हंगामा मंगलवार 8 जनवरी को विधानसभा अध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया शुरू हुई तो प्रोटेम स्पीकर दीपक सक्सेना ने प्रस्ताव पढऩा शुरू किया.

कांग्रेस प्रत्याशी नर्मदा प्रसाद प्रजापति के नाम के चार प्रस्तावों पर चर्चा शुरू कराने की व्यवस्था दी गई. इस पर भाजपा की ओर से उनके प्रत्याशी का प्रस्ताव भी पढऩे की मांग हुई. प्रोटेम स्पीकर सक्सेना और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने नियमों का हवाला देते हुए क्रमवार प्रस्ताव प्रस्तुत करने की बात कही.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *