नरसिंहपुर

जनसुनवाई में 153 आवेदन प्राप्त, कलेक्टर को बतार्इं अपनी समस्यायें

Spread the love
नरसिंहपुर-  मंगलवार 8 जनवरी को कलेक्ट्रेट में हुई जनसुनवाई में कलेक्टर दीपक सक्सेना ने लोगों की समस्यायें ध्यान से सुनी और निराकरण के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों से चर्चा कर विभिन्न प्रकरणों के बारे में जानकारी ली। जनसुनवाई में जिले के विभिन्न स्थानों से लोग पहुंचे थे। जनसुनवाई में मुख्य रूप से भूमि संबंधी और प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने के आवेदन आये। अपर कलेक्टर जे समीर लकरा एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरपी अहिरवार ने भी लोगों की समस्यायें सुनी तथा अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई के लिए निर्देशित किया। जनसुनवाई में 153 आवेदन आये। जिला मुख्यालय से बाहर के अधिकारियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आवश्यक निर्देश दिये गये।
जनसुनवाई में एसडीएम महेश कुमार बमनहा, डिप्टी कलेक्टर संघमित्रा बौद्ध, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अनीता अग्रवाल, महाप्रबंधक उद्योग पीडी वंशकार, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग आदित्य सोनी, उप संचालक कृषि आरके गणेशे, जिला शिक्षा अधिकारी जेके मेहर, जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा श्वेता जाधव, जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण रेखा पांचाल और विभिन्न विभागों के जिला प्रमुख मौजूद थे।
जनसुनवाई में गुंदरई की उर्मिला हरिशंकर श्रीवास्तव ने खेत पर बिजली कनेक्शन देने के लिए आवेदन दिया। जिस पर कलेक्टर ने विद्युत वितरण कम्पनी के अधीक्षण यंत्री को परीक्षण कर आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये। बेलखेड़ी- सलैया के ग्रामवासियों ने बताया कि उन्हें चुनाव में वोट डालने के लिए 5 किमी दूर भैरवपुर जाना पड़ता है। इसलिए बेलखेड़ी में मतदान केन्द्र बनवाया जावे। इस संबंध में कलेक्टर ने तहसीलदार गाडरवारा को निर्देशित किया कि वे मतदान केन्द्र देखें और आवश्यकतानुसार परिवर्तन करें। इमलिया- पिपरिया के लालकुंवर कौरव ने मनरेगा में किये कार्य की मजदूरी दिलाने के लिए आवेदन दिया। जिस पर सीईओ जनपद चीचली को तत्काल भुगतान कराने के निर्देश दिये गये। करेली नगर पालिका के सफाई कर्मचारियों ने आवेदन देकर बताया कि उन्हें आदेश होने के 8 माह बाद भी नियमित वेतनमान नहीं दिया जा रहा है। इस मामले में जिला शहरी विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी को समय सीमा में आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये गये। सडूमर के रमेश तेजराम गौंड़ के सीमांकन कराने के आवेदन पर तहसीलदार गाडरवारा को तत्काल सीमांकन कराने के निर्देश दिये गये।
जनसुनवाई में रांझी- जबलपुर के गजराज उर्फ गज्जू रतन सिंह लोधी ने अपनी ठेमी मौजा की पैतृक जमीन में हिस्सा दिलाने, सडूमर के विशाल महादेव साहू ने मकान से कब्जा हटवाने, सांईखेड़ा की सावित्री अग्रवाल ने प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने, बरहटा की जमना बाई बैनी सिंह ने बंटवारे की जमीन से खेत में नहीं जाने देने व ट्रेक्टर- ट्राली नहीं निकलने देने, ढाना के हरिशंकर मुंशीलाल राय ने भूमि का बंटाकन कराने, श्रीनगर- उमरिया की पुष्पाबाई ठाकुर ने पति की मृत्यु हो जाने पर अनुग्रह राशि दिलाने, कोसमखेड़ा के दौलत प्रसाद चौधरी ने आने- जाने का रास्ता दिलाने, डेढवारा की दमंतीबाई चौधरी ने प्रधानमंत्री आवास दिलाने, शंकराचार्य वार्ड नरसिंहपुर की सुलेखा राजेश जैन ने सहारा इंडिया से राशि दिलाने, बेलखेड़ी- धमेटा के सरदार कौरव ने प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने, रानीपिपरिया के गेंदालाल पटैल ने जिला चिकित्सालय से दवाईयां दिलाने, सिहोरा- बोहानी की इति विश्वास ने पति की मृत्यु पर अनुग्रह राशि दिलाने, बारहाबड़ा के उमाशंकर राधेलाल अहिरवार ने भूमि पर जबरन कब्जा हटवाने, सिरसिरी की सूरजबाई महेश शर्मा ने खाद्यान्न पर्ची दिलाने, सगौनीकला के ग्रामवासियों ने अतिक्रमण हटवाकर सामुदायिक भवन व आंगनबाड़ी केन्द्र का निर्माण कराने, मबई पिपरिया की मुन्नीबाई रामचरण चौधरी ने शिकायत की कि मोहन और बृजेश चौधरी रास्ता रोककर जान से मारने की धमकी देते हैं, इससे सुरक्षा दिलाने के लिए अपने- अपने आवेदन प्रस्तुत किये। अन्य आवेदकों ने अपनी- अपनी समस्यायें बताई। इन मामलों में संबंधित अधिकारियों को समस्याओं के निराकरण के लिए आवश्यक निर्देश दिये गये।
8 Attachments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *