नरसिंहपुर

बैंकर्स स्वरोजगार के प्रकरणों को प्राथमिकता से स्वीकृत करें- कलेक्टर

Spread the love

कलेक्टर ने ली बैंक अधिकारियों की बैठक
नरसिंहपुर, 24 जुलाई 2018. 
कलेक्टर अभय वर्मा ने बैंक अधिकारियों से कहा कि शासन द्वारा प्रायोजित विभिन्न स्वरोजगार हितग्राही मूलक योजनाओं के प्रकरण में प्राथमिकता से स्वीकृत करें। जो प्रकरण स्वीकृत हो चुके हैं, उनमें वितरण की कार्रवाई सुनिश्चित करें, जिससे युवा अपने स्वरोजगार स्थापित कर आत्मनिर्भर बन सकें। चार अगस्त को आयोजित होने वाले जिला स्तरीय स्वरोजगार मेले के संबंध में कलेक्टर अभय वर्मा कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में विभिन्न बैंकों के समन्वयकों और स्वरोजगार योजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़े विभागीय अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे।
बैठक में एलडीएम डीके सिंह, महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र पीडी वंशकार, विभिन्न बैंकों के जिला समन्वयक, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड संतोष महादिक और अन्य अधिकारी मौजूद थे।
बैठक में कलेक्टर ने मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना, एनआरएलएम, खादी ग्रामोद्योग, माटीकला, पिछड़ा वर्ग कल्याण, अंत्यावसायी आदि योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा विभिन्न स्वरोजगार हितग्राही मूलक योजनायें बैंकों की सहमति के आधार पर ही बनाई जाती हैं। इन योजनाओं के ऋण प्रकरण स्वीकृत करने में बैंकों को देरी नहीं करनी चाहिये। उन्होंने कहा कि आगामी 4 अगस्त को जिला स्तरीय स्वरोजगार मेला में सौ प्रतिशत प्रकरणों में स्वीकृति और 50 प्रतिशत प्रकरणों में हितग्राहियों को वितरण किया जाना है।
बैठक में कलेक्टर ने योजनाओं में प्राप्त लक्ष्य, स्वीकृति एवं वितरण की अधिकारियों से विभागवार जानकारी ली। ऋण प्रकरणों में आने वाली समस्याओं के संबंध में बैंक अधिकारियों से चर्चा कर उनका निराकरण भी किया गया। बैठक में बैंक ऑफ इंडिया, यूनियन बैंक और विजया बैंक के प्रतिनिधियों की अनुपस्थिति पर कलेक्टर ने अप्रसन्नता व्यक्त की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *