Uncategorized

शिकार केस में सलमान 20 साल बाद दोषी: 5 साल की सजा, बेल पर कल सुनवाई; जेल में गुजारनी होगी रात

Spread the love

सलमान कैदी नं 106 के तौर पर जेल में रहेंगे। उन्हें डिस्पेंसरी के करीब बने वार्ड नंबर 2 में रखा गया है।

जोधपुर. बीस साल पुराने काला हिरण शिकार मामले में गुरुवार को जोधपुर की चीफ ज्युडिशियल मजिस्ट्रेट (सीजेएम) की कोर्ट ने सलमान खान को दोषी करार दिया। सीजेएम देव कुमार खत्री ने सलमान को 5 साल कैद की सजा सुनाई और 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया। सलमान को जोधपुर जेल भेजा गया। वे चौथी बार जोधपुर जेल गए हैं। इससे पहले 1998, 2006 और 2007 में सलमान कुल 18 दिन जेल में रहे थे। सलमान के वकीलों ने जमानत अर्जी दाखिल की है। चूंकि सजा तीन साल से ज्यादा की है, इसलिए इस पर ऊपरी अदालत यानी सेशन कोर्ट में शुक्रवार सुबह सुनवाई होगी। इस केस में सह आरोपी सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेंद्रे और नीलम कोठारी संदेह के लाभ पर बरी हो गए। यह मामला सितंबर-अक्टूबर 1998 का है। तब ये सभी फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ की शूटिंग के सिलसिले में जोधपुर में थे। सलमान और उनके साथियों पर चिंकारा और काले हिरणों (ब्लैक बक) के शिकार का आरोप लगा था। सलमान पर आर्म्स एक्ट के तहत भी केस दर्ज हुआ था।

सलमान को क्यों दोषी करार दिया?
सलमान के वकील:
 हस्तीमल सारस्वत ने कोर्ट से कहा कि यदि सलमान को जेल भेजा जाता है तो इससे फिल्म जगत से जुड़े कई लोगों की रोजी-रोटी पर असर पड़ेगा। ऐसे में नर्म रुख अपनाया जाए।
अभियोजन पक्ष: भावानी सिंह ने कहा कि सलमान बहुचर्चित व्यक्ति हैं। वे जो करते हैं, आम जनता भी उसका अनुसरण करती है। उनके प्रति किसी भी तरह की नर्मी नहीं बरती जानी चाहिए।
कोर्ट: सीजेएम देव कुमार खत्री ने कहा कि सलमान खान के खिलाफ आरोप को संदेह से परे और तार्किक तरीके से साबित करने में अभियोजन पक्ष पूरी तरह सफल रहा है। सलमान ने एक अक्टूबर और 2 अक्टूबर 1998 की दरमियानी रात को डेढ़ से दो बजे के बीच ढाणियां बागड़ा में बंदूक से फायर कर दो काले हिरणों का शिकार किया।
– कोर्ट ने इस बात पर भी गौर किया कि सलमान को कुछ मामलों में बरी किया गया है, लेकिन जिस तरह से उन्होंने संरक्षित काले हिरण का बंदूक से शिकार किया, उसके मद्देनजर और अवैध शिकार की बढ़ती घटनाओं को ध्यान रखते हुए उन्हें किसी तरह का लाभ देना जायज नहीं होगा।

4 सितारों को क्यों बरी किया गया?
– कोर्ट ने अपने फैसले में कहा िक ना तो ऐसा कोई बयान आया, जिसमें यह जिक्र हो कि आरोपी सैफ अली खान ने सलमान को हिरणों को देखकर फायर करने के लिए उकसाया हो। और ना ही उकसाने वाली बात साबित हुई। सैफ सिर्फ जिप्सी में आगे बैठे थे।
– कोर्ट ने कहा कि सैफ के अलावा सोनाली, नीलम, तब्बू और दुष्यंत सिंह भी अपराध में शामिल थे, ये साबित नहीं हुआ। ऐसे में इन सभी आरोपियों पर संदेह से परे जाकर आरोप साबित नहीं होता। लिहाजा, इन्हें संदेह का लाभ देते हुए बरी किया जाता है।

सजा सुना रहे थे जज, दीवार के सहारे खड़े थे सलमान

– लंच के दौरान सलमान की दोनों बहनें कोर्ट रूम के बाहर गैलरी में फोन पर बात कर रही थीं। सलमान कुर्सी पर अकेले बैठे थे।
– लंच के बाद जज डायस पर आए और सलमान खान कुर्सी से उठकर दीवार के सहारे खड़े हो गए। बहनें भी सलमान के साथ खड़ी हो गईं।
– जज ने सलमान खान को 5 साल कैद और 10 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। फैसला सुनते ही उनकी दोनों बहनें रोने लगीं।
– विश्नोई समाज ने फैसले के बाद खुशी में नारेबाजी की और बरी किए गए लोगों के खिलाफ अपील करने की बात कही।

सलमान की वजह से फिल्ममेकर्स के 385 करोड़ दांव पर
रेस 3 : 100 कराेड़
भारत :200 करोड़, शूटिंग शुरू होना बाकी है
दबंग 3 : 85 करोड़, शूटिंग शुरू होना बाकी है

जमानत पर सुनवाई कल, जेल में बितानी होगी रात

– सीजेएम कोर्ट ने सलमान को 3 साल से ज्यादा कैद की सजा सुनाई है। ऐसे में उनके वकीलों ने सेशन कोर्ट में जमानत की अपील की है। सलमान की बेल एप्लीकेशन पर कोर्ट कल फैसला करेगी। ऐसे में तय है कि सलमान को गुरुवार रात जेल में ही बितानी होगी। सलमान कैदी नं 106 के तौर पर जेल में रहेंगे। उन्हें डिस्पेंसरी के करीब बने वार्ड नंबर 2 में रखा गया है।

जोधपुर जेल में ही बंद है आसाराम

– सलमान खान को मेडिकल के बाद जोधपुर जेल ले जाया गया। इसी जेल में यौन शोषण का आरोपी आसाराम भी बंद है।

क्यों दोषी करार दिए गए?

1) हिरण शिकार के चारों केस में सबसे मजबूत था यह मामला

– यह केस सबसे पुख्ता था, क्योंकि 1 अक्टूबर 1998 की रात जब इन बॉलीवुड स्टार्स ने कांकाणी में संरक्षित वन्य प्राणी दो काले हिरणों का शिकार किया था तो ग्रामीणों ने गोली की आवाज सुनकर उनका पीछा भी किया था। ग्रामीणों ने उन्हें मौके पर देखा था और हिरणों के शव भी वन विभाग को सुपुर्द किए थे। इस मामले में सलमान गोली चलाने के आरोपी बनाए गए।
– शिकार से जुड़े बाकी के दोनों केस में इकलौता चश्मदीद हरीश दुलानी था, उसने भी बयान बदल लिए थे। उसने सलमान के अलावा दूसरे कलाकारों को पहचानने से इनकार कर दिया था। दूसरा कमजोर पक्ष यह भी था कि उसमें हिरणों के शव नहीं मिले थे।

2) दूसरी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में पुष्टि हुई
– कांकाणी केस में पहली रिपोर्ट डॉ. नेपालिया की थी। उनकी रिपोर्ट के मुताबिक, एक हिरण की मौत दम घुटने से और दूसरे हिरण की मौत गड‌्ढे में गिर जाने और श्वानों द्वारा उसे खाने से हुई थी। अभियोजन पक्ष का कहना था कि यह रिपोर्ट सही नहीं थी क्योंकि इसमें गन इंजरी की बात नहीं थी।
– इसके बाद मेडिकल बोर्ड बैठाया गया। बोर्ड ने दूसरी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में दोनों काले हिरणों की मौत की वजह गन शॉट इंजरी ही बताई।

इस मामले में सलमान पर कितने केस, उनमें क्या हुआ?

– कुल चार केस थे। तीन हिरणों के शिकार के और चौथा आर्म्स एक्ट का। दरअसल, तब सलमान के कमरे से उनकी निजी पिस्टल और राइफल बरामद की गई थीं, जिनके लाइसेंस की मियाद खत्म हो चुकी थी।

कहां और कब किए गए शिकार?

– सलमान पर जोधपुर के घोड़ा फार्म हाउस और भवाद गांव में 27-28 सितंबर 1998 की रात हिरणों का शिकार करने का आरोप लगा। कांकाणी गांव में 1 अक्टूबर को 2 काले हिरणों के शिकार करने का आरोप था।

सैफ अली, नीलम, सोनाली और तब्बू क्यों आरोपी थे?
– कांकाणी गांव शिकार मामले में गवाहों ने कोर्ट में बताया था कि गोली की आवाज सुनकर वे मौके पर पहुंचे थे। शिकार सलमान ने किया था। जीप में उनके साथ सैफ अली, नीलम, सोनाली और तब्बू भी थे। इन पर सलमान को उकसाने का आरोप था। गांव वालों को देखकर सलमान मारे गए हिरणों को वहीं छोड़कर गाड़ी लेकर चले गए थे।

कितने मामलों में सजा सुनाई, कितनों में बाकी?
1) कांकाणी गांव केस:
 इसी केस में सलमान को गुरुवार को दोषी ठहराया गया। उन्हें 5 साल कैद की सजा सुनाई गई।
2) घोड़ा फार्म हाउस केस: 10 अप्रैल 2006 को सीजेएम कोर्ट ने 5 साल की सजा सुनाई थी। सलमान हाईकोर्ट गए। 25 जुलाई 2016 को उन्हें बरी किया गया। राज्य सरकार ने इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।
3) भवाद गांव केस: सीजेएम कोर्ट ने 17 फरवरी 2006 को सलमान को दोषी करार दिया और एक साल की सजा सुनाई। हाईकोर्ट ने इस मामले में भी सलमान को बरी कर दिया है। राज्य सरकार ने फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।
4) आर्म्स केस:18 जनवरी 2017 को कोर्ट ने सलमान को बरी कर दिया था। राज्य सरकार ने इस फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की है।

सलमान ने 20 साल में 18 दिन जेल में काटे

– हिरण शिकार के 3 मामलों में सलमान पुलिस और ज्यूडिशियल कस्टडी में 18 दिन जेल में रह चुके हैं।
6 दिन: वन विभाग ने 12 अक्टूबर 1998 को हिरासत में लिया था। वे 17 अक्टूबर तक जेल में रहे।
6 दिन: घोड़ा फार्म मामले में 10 अप्रैल 2006 को सलमान को लोअर कोर्ट ने 5 साल की सजा सुनाई। 15 अप्रैल तक जेल में रहे।
6 दिन: सेशन कोर्ट ने इस सजा की पुष्टि की। तब 26 से 31 अगस्त 2007 तक सलमान जेल में रहे।

सलमान को जान से मारने की धमकी, पुलिस की सांसें अटकीं

– पंजाब-हरियाणा के कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई ने कुछ महीने पहले ही कोर्ट में पेशी के दौरान सलमान को जान से मारने की धमकी दी थी।

– लॉरेंस अभी भरतपुर जेल में है, लेकिन उसके 20 गुर्गे जोधपुर जेल में बंद हैं। पुलिस ने जेल डीजी को लेटर लिखा है लिखकर सलमान और अन्य कलाकारों की जेल में सुरक्षा का अनुरोध किया है। डीआईजी जेल ने कहा है कि फिल्म कलाकार जेल आते हैं तो उन्हें सभी कैदियों से अलग रखा जाएगा।

– बता दें कि मुंबई में शूटिंग के वक्त भी अनजान आदमी के हथियार लेकर सलमान के पास पहुंचने की खबर पर उन्हें पुलिस सुरक्षा में घर पहुंचाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *