नरसिंहपुर

विवाह बंधन में बंधे 336 जोड़े

Spread the love

नरसिंहपुर, 18 अप्रैल 2018. अक्षय तृतीय के अवसर पर कृषि उपज मंडी परिसर नरसिंहपुर में मुख्यमंत्री कन्या विवाह और निकाह योजना के अंतर्गत 336 जोड़ों के विवाह खुशियों भरे वातावरण में धूमधाम से बुधवार को सम्पन्न हुये। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत 328 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे, मुख्यमंत्री निकाह योजना के अंतर्गत 7 मुस्लिम जोड़े और एक ईसाई जोड़ा शादी के बंधन में बंधा। प्रदेश के आयुष, कुटीर एवं ग्रामोद्योग (स्वतंत्र प्रभार) और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री जालम सिंह पटैल ने जिला प्रशासन द्वारा आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में शामिल होकर वर- वधु को आशीर्वाद और शुभकामनायें दी। अन्य अतिथियों द्वारा भी नव युगल को पारिवारिक जीवन में प्रवेश करने पर शुभकामनायें और आशीर्वाद प्रदान किया गया। अतिथियों ने नव विवाहित जोड़ों को उनके उज्जवल, स्वस्थ और सुखद भावी जीवन के लिए शुभकामनायें दी।
इस मौके पर नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना नीरज दुबे, कृषि उपज मंडी अध्यक्ष रविन्द्र पटैल, जनपद पंचायत अध्यक्ष अनुराधा धनीराम पटैल, जनपद पंचायत उपाध्यक्ष रजनी सुनील जाट एवं अरविंद पटैल, एसडीएम महेश कुमार बमनहा, जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी व उप संचालक सामाजिक न्याय प्रभात उईके, ठाकुर राजीव सिंह, शंकर पटैल, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी अरूण प्रताप सिंह निरंजन, जिला वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष हुसैन पठान, मुख्य नगर पालिका अधिकारी केएस ठाकुर, जनपद पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्वेता बिसेन, अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारीगण, वर- वधु के परिजन, पुरजन और बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।
विवाह के अवसर पर वधु को शासन की तरफ से 17 हजार रूपये गृहस्थी की स्थापना के लिए, तीन हजार रूपये वधु को स्मार्ट फोन के लिए और 5 हजार रूपये के आभूषण पायल, बिछिया, मंगलसूत्र व बर्तन सामग्री भेंट की गई। इस तरह वर- वधु के एक जोड़े को 25 हजार रूपये की आर्थिक सहायता राज्य शासन द्वारा मुहैया कराई गई। सामग्री की राशि के अलावा शेष राशि वधु के बैंक खाते में ऑनलाइन जमा कराई गई।
उल्लेखनीय है कि सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग के अंतर्गत दीनदयाल अंत्योदय मिशन मध्यप्रदेश के तहत निराश्रित, निर्धन परिवार की विवाह/ निकाह योग्य कन्या के सामूहिक विवाह हेतु गृहस्थी की स्थापना हेतु आर्थिक सहायता दी जाती है।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्य मंत्री श्री पटैल ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह/ निकाह योजना मध्यप्रदेश सरकार की अत्यंत महत्वाकांक्षी योजना है। गरीब एवं कमजोर वर्ग के लोग बेटी के विवाह के लिए परेशान न हो और बेटी को भार नहीं समझें, इस उद्देश्य से यह योजना शुरू की गई है। इस योजना में विवाह होने पर 25 हजार रूपये की आर्थिक मदद दी जाती है। यह योजना वर्ष 2006 से शुरू हुई। अब तक इस योजना में प्रदेश में 4 लाख 26 हजार 884 कन्या विवाह और 10 हजार 678 निकाह हो चुके हैं। केन्द्र एवं राज्य सरकार महिला सशक्तिकरण के उद्देश्य से महिलाओं के हक में लगातार कार्य कर रही है। शासन की मंशा है कि महिलाओं का उत्तरोत्तर सम्मान बढ़े। वे जीवन में बड़ी उपलब्धियां और अच्छी शिक्षा हासिल करें। उन्होंने कहा कि बेटियां पहले अपनी पढ़ाई पर ध्यान दें। अच्छी शिक्षा प्राप्त करें, इसके बाद ही निर्धारित आयु में उनका विवाह हो। गरीब महिलाओं के अच्छे स्वास्थ्य और उन्हें चूल्हे के धुंयें से मुक्ति दिलाने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री उज्जवला योजना शुरू की गई है। प्रदेश में अब तक 31 लाख गैस कनेक्शन गरीब महिलाओं को वितरित किये जा चुके हैं। उन्होंने नव युगलों से सभी प्रकार के नशे गुटखा, तम्बाकू आदि से भी दूर रहने का संकल्प लेने का आग्रह किया।
वर- वधु के जोड़ों को भेंट किये पौधे और उपहार
राज्य मंत्री श्री पटैल ने सामूहिक विवाह कार्यक्रम में वर- वधु के जोड़ों को पौधे और उपहार भेंट किये। उन्होंने कहा कि नव युगल अपने विवाह की स्मृति में घर पर जाकर एक पौधा जरूर लगायें और उसकी देखभाल कर उसे पेड़ के रूप में विकसित करें।
कलेक्टर ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा
कलेक्टर अभय वर्मा ने कार्यक्रम स्थल पर सामूहिक विवाह समारोह के लिए की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया।
एसीईओ श्री उईके ने सामूहिक विवाह कार्यक्रम का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह/ निकाह योजना के अंतर्गत जिले के ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों के 352 जोड़ों का पंजीयन जिला स्तरीय सामूहिक विवाह कार्यक्रम के लिए किया गया था। इसमें से 336 जोड़ों के विवाह अक्षय तृतीया को सम्पन्न हुये, जिनमें 7 निकाह शामिल हैं। कार्यक्रम का संचालन दीपक अग्निहोत्री ने और आभार प्रदर्शन सीईओ जनपद श्वेता बिसेन ने किया।
मंत्रोच्चार के बीच वर- वधु ने लिये 7 फेरे
मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत वर- वधु के जोड़ों ने मंत्रोच्चार के बीच अग्नि के 7 फेरे लिये। गायत्री परिवार के राजेन्द्र शर्मा एवं अन्य सहयोगियों ने विवाह कार्यक्रम सम्पन्न कराया। राज्य मंत्री श्री पटैल ने श्री शर्मा और उनके सहयोगियों को माला पहनाकर और उपहार देकर सम्मानित किया।
समा.क्र. 131/750/ आर.के.एस.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *