Uncategorized

राजपाल को गाल सहलना पड़ा महंगा … गुस्से में है महिला पत्रकार

Spread the love

चेन्नई: तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित एक महिला पत्रकार के गाल को छू कर विवादों में आ गए हैं। महिला पत्रकार ने ट्विटर पर इसके खिलाफ विरोध जताया। पत्रकार ने यहां तक कहा कि उसने कई बार अपना चेहरा धोया। अपने इस कृत्य से राज्यपाल पुरोहित विपक्ष के भी निशाने पर आ गए हैं।
महिला पत्रकार ने ट्वीट किया, ‘मैंने चेहरे में कई बार धोया। अभी भी इससे छुटकारा पाने में सक्षम नहीं हूं। मिस्टर बनवारीलाल पुरोहित बहुत गुस्से में हू। यह आपके द्वारा प्रशंसा करने या दादाजी जैसा व्यवहार हो सकता है, लेकिन मेरे लिए आप गलत हैं।’ पत्रकार ने इसे अव्यावहारिक आचरण बताया। पत्रकार ने एक और ट्वीट किया, ‘जिसमें कहा कि प्रेस कॉन्फ्रेंस खत्म होने के बाद मैंने पुरोहित से सवाल किया, लेकिन बिना मेरी सहमति के मेरे गाल सहलाना शुरु कर दिया।’
राज्यपाल पुरोहित ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेस बुलाई थी। इसमें पुरोहित ने उन आरोपों को बकवास बताकर खारिज कर दिया था, जिसमें कहा गया था कि केंद्रीय गृह मंत्रालय कथित तौर पर यौन कदाचार के मामले में उनके खिलाफ जांच कर रहा है। पुरोहित से जब एक पार्टी द्वारा लगाए गए उन आरोपों के बारे में पूछा गया जिसमें कहा गया है कि कथित यौन कदाचार के लिए गृह मंत्रालय उनके खिलाफ जांच कर रहा है तो उन्होंने कहा कि यह बिल्कुल निराधार है। उन्होंने कहा कि एक कॉलेज की महिला व्याख्याता प्रकरण में कड़ी कार्रवाई की जाएगी और दोषियों को दंडित किया जाएगा। वह व्याख्याता विश्वविद्यालय के आला अधिकारियों की यौन तुष्टि करने के लिए कथित तौर पर छात्राओं को प्रलोभन देती थी।
डीएमके की राज्यसभा सदस्य कनिमोई ने भी ट्वीट कर इसकी आलोचना की। उन्होंने कहा, ‘अगर संदेह नहीं भी किया जाए तब भी सार्वजनिक पद पर बैठे एक व्यक्ति को इसकी मर्यादा समझनी चाहिए और एक महिला पत्रकार के निजी अंग को छूकर गरिमा का परिचय नहीं दिया या किसी भी इंसान द्वारा दिखाया जाने वाला सम्मान नहीं दर्शाया।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *